Why we see scary dreams | जानिए डरावने सपने क्यों आते हैं ?

डरावने सपने क्यों आते हैं?, drawne sapne kyun aate hain?

कुछ लोगों को रात में डरावने सपने यानि की nightmares आते हैं, जो सुनने में काफी नॉर्मल बात लगती है लेकिन  जिसके साथ ऐसा होता है उसे ही समझ में आता है कि यह कितना भयानक एहसास है। रात को खराब सपने आना बहुत ही डरावना होता है, इससे ना सिर्फ हमारी नींद खराब होती है बल्कि रोज-रोज अगर हमारे साथ ऐसा हो तो हमारी सेहत और लाइफस्टाइल दोनों पर इसका बहुत ही बुरा प्रभाव पड़ता है।

आज के पोस्ट में हम डरावने सपने क्यों आते हैं?(drawne sapne kyun aate hain?) इसी बारे में बात करने वाले हैं। अगर आपको भी रात को डरावने सपने आते हो तो ईसका इलाज ढूंढना बहुत जरूरी हो जाता है। 

लेकिन उससे पहले यह जानना भी जरूरी है कि आखिर इस तरह से डरावने सपने आने के पीछे आगे वजह क्या है। अगर हमें वजह का पता होगा तो हम उन कारणों को दूर करके और अपनी लाइफ स्टाइल में थोड़ा सा बदलाव करके इस समस्या से निजाद पा सकते हैं। आज के पोस्ट में आप सभी को पता चलेगा कि कैसे हम इस तरह के सपने आने से रोक सकते हैं और एक चैन की नींद ले सकते हैं। तो बिना टाइम वेस्ट किये आर्टिकल को शुरू करते हैं। 

drawne sapne kyun aate hain
drawne sapne kyun aate hain?

डरावने सपने आने के कारण

तनाव

आज की डेट में तनाव ने किसीको भी नहीं छोड़ा है। तनाव के कारण लगभग 90% लोग बीमारी के शिकार होते हैं। हमारी जिंदगी से अगर तनाव को दूर कर दिया जाए तो शायद हमारी आधी परेशानी वैसे ही सॉल्व हो जाएगी। कुछ लोग बहुत ज्यादा तनाव में रहते हैं और इस तरह के लोगों को अक्सर डरावने सपने आते हैं अगर आपको भी हर रात या दो-तीन दिन बाद बाद ही डरावने सपने आ रहे हैं और साथ ही आपको बहुत ज्यादा तनाव है तो सबसे पहले अपने तनाव को खुद से दूर करें। आप पाएंगे कि आप के डरावने सपने आना अपने आप बंद हो गए हैं।

डरावनी फिल्म देखना 

कुछ लोगों को सोने से पहले फिल्म देखने की आदत होती है। कुछ लोग डरावनी और भूत प्रेत वाली फिल्म देखना ज्यादा पसंद करते हैं। अगर आप भी लगातार इस तरह की फिल्में देखते हैं तो धीरे-धीरे आपके दिमाग में उस पिक्चर से जुड़ी हर एक सींस की छवि कैद हो जाती है और वही सब चीजें सपने के रूप में आपको देखने को मिलती है। इसीलिए रात को सोने से पहले इस तरह की डरावनी फिल्में नहीं देखनी चाहिए। अगर आपको फिल्म देखने का शौक ही है तो आप कोई कॉमेडी या पारिवारिक फिल्म देख सकते हैं। जिससे आपको अच्छी नींद आएगी और आपका मन भी हैप्पी और खुश रहेगा। इसीलिए आज ही इस तरह की डरावनी फिल्में देखना बंद कर दे।

कोई बीमारी या दवाई का असर 

अगर आपको कोई बीमारी है और आप उस बीमारी को दूर करने के लिए कोई दवाई ले रहे हैं तो उसके साइड इफेक्ट के कारण आपको तनाव, चिरचिरापन इत्यादि हो सकता है और इसके अलावा आपको डरावने सपने भी आ सकते हैं। ऐसे में ज्यादा चिंता करने की जरूरत नहीं है जैसे ही आप की शारीरिक स्थिति नॉर्मल होगी और आप दवाइयां लेना बंद कर देंगे तो आपको तरह के सपने आना बंद हो जाएंगे। लेकिन जब तक आप दवाई ले रहे हैं, तब तक आप कोशिश करें कि आप अच्छा पौष्टिक भोजन करें, पूरी नींद लें। दवाई के साइड इफेक्ट को कम करने के लिए योगा, एक्सरसाइज या मेडिटेशन भी जरूर करें।

किसी बात का सदमा 

पिछले कुछ दिनों में अगर आपके साथ कोई ऐसी घटना घटी है जिसके वजह से आपके दिल पर गहरा सदमा लगा है, तो उस सदमे के कारण भी आपको डरावने सपने आ सकते हैं। ऐसे में आपको कहीं घूमने जाना चाहिए और कुछ दिनों तक बदले हुए माहौल में समय बिताना चाहिए। इससे सदमे का असर आपके दिल से धीरे-धीरे मिट जाएगा और आपकी मानसिक स्थिति नॉर्मल हो जाएगी। इसके अलावा आप परिवार वालों के साथ ज्यादा से ज्यादा समय व्यतीत करें, क्योंकि यह परिवार ही है जो हर तरह के घाव पर मरहम लगा सकता है और घाव को जल्दी भरने में मदद कर सकता है। 

गंदा बिस्तर या गंदा कमरा 

अगर आपका कमरा गंदा है या आपका बिस्तर गंदा है, आप अपने बिस्तर पर बीछे चादर और तकिए के कवर को नहीं धोते हैं और बहुत दिनों से वैसे ही पड़ा है तो उसके कारण भी आपको डरावने सपने आ सकते हैं। इसके अलावा अगर आप अपने बेडरूम में जूते चप्पल बगैरा रखते हैं तो उन जूते चप्पलो के कारण भी गंदे सपने आते हैं। खास करके अगर बेडरूम में कोई भगवान की मूर्ति रखी हुई है और उसके पास ही जूते चप्पल वगैरह है तो यह भी एक कारण है कि आपको डरावने सपने आते हैं। इसीलिए अपने कमरे और बिस्तर को सदा साफ रखें। 

डरावने सपने आने से कैसे रोके

देर रात तक मोबाइल फोन का इस्तेमाल ना करें

सोने से पहले अगर आप देर रात तक मोबाइल फोन चलाते हैं तो यह भी डरावने सपने आने का एक प्रमुख कारण है। अगर आपको भी डरावने सपने आते हैं तो सोने से 2 घंटे पहले ही मोबाइल को खुद से दूर कर दें। खाना खाने के बाद बिस्तर पर जाए भगवान का नाम लेकर सो जाए। यकीनन आपको पहले की तुलना में बेहतर नींद आएगी और डरावने सपने आने भी बंद हो जाएंगे। 

बेहतर खान पान

हमारा शरीर अगर कमजोर होता है तो हमारा दिमाग भी कमजोर हो जाता है और इसके परिणाम स्वरूप इस तरह के डरावने सपने आना, जल्दी से किसी बात को भूल जाना इत्यादि घटनाएं घटने लगती है। इसलिए अपने खान-पान पर ध्यान दें और अपना पूरा ख्याल रखें। धीरे धीरे इस तरह के सपने आने बंद हो जाएंगे।

मैडिटेशन 

तनाव से दूर रहने के लिए मेडिटेशन एक बहुत ही अच्छा उपाय है और तनाव के कारण ही अक्सर इस तरह के सपने आते हैं। इसीलिए मेडिटेशन का सहारा ले। रोजाना 15 मिनट का ध्यान आपको इस तरह के डरावने सपनों से छुटकारा दिला सकता है और आपको तनाव से भी दूर रहने में मदद करेगा। मैडिटेशन के साथ-साथ आप चाहे तो योगा और थोड़ा एक्सरसाइज भी कर सकते हैं। इससे आपको डबल फायदा होगा। आपकी सेहत अच्छी रहेगी।

सही दिशा में सोएं

गलत दिशा में सोना ना सिर्फ हमारी सेहत के लिए नुकसानदायक है बल्कि यह हमारे सुकून से भरे हुए नींद में भी खलल डाल सकता है। सोते समय हमेशा अपना सिर दक्षिण की तरफ और अपने पैर उत्तर की तरफ रखें। इसके अलावा अगर आपके कमरे के साथ अटैच बाथरूम थे तो बाथरूम की तरफ कभी भी अपना सिर ना करें। इस तरह की छोटी-छोटी बातों का ख्याल रखें और डरावने सपने आने से छुटकारा पाए। 

गहरे रंग का चादर ना बिछाए 

अपने बिस्तर पर रेड, ब्लैक या फिर ऑरेंज कलर जैसे गहरे रंग का चादर ना बिछाए। इसके बजाय किसी हल्के कलर का इस्तेमाल करें। इस वजह से भी हमें डरावने सपने आते हैं। इसीलिए अपना चादर और तकिए का कवर हल्के रंग का रखें। 

समय से सोएं

देर रात तक जागना भी कभी-कभी डरावने सपने आने का कारण होता है। देर रात को जब सब लोग सो जाते हैं तो चारों तरफ बहुत सन्नाटा होता है और इस समय अगर हम अकेले कोई काम करते हैं या फिर कुछ मूवी वगैरा देखते हैं तो अचानक कोई भी आवाज आने पर हमें बहुत भयानक लगता है और हम घबरा जाते हैं, मन में हलका सा डर भी आ जाता है। उसके बाद जब हम सोने जाते हैं तब भी चारों तरफ का माहौल सन्नाटा होता है और हम अकेले ही जागे हुए होते हैं। ऐसे में हमारा मन थोड़ा सा डरता और घबराता है और सोने के बाद वही घबराहट सपने के रूप में हमारे सामने आ जाती है। और इसके अलावा नींद खराब होने का मतलब है तनाव। और तनाव का मतलब है डरावने सपने। इसीलिए समय से सोएं और सोते समय भगवान का ध्यान जरूर करें। 1 मिनट के लिए भगवान का नाम लेकर सोने से आपको बहुत अच्छी नींद आएगी और आपको डरावने सपने तो कभी नहीं आएंगे।

अकेले कमरे में सोने से बचें

अगर आपको डरावने सपने आ रहे हैं और आप अपने कमरे में अकेले सोते हैं तो कुछ दिनों के लिए अकेले ना सोए। अगर आप किसी के साथ सोएंगे या किसी और के कमरे में जाएंगे तो हो सकता है कि आप के डरावने सपने आना बंद हो जाए और आपको और कुछ और करना ही ना पड़े। इसीलिए कुछ दिनों के लिए अकेले सोने से बचे। जब आपकी स्थिति नॉर्मल हो जाएगी तो फिर से आप अपने कमरे में सो सकते हैं।

निष्कर्ष

आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं आशा करते हैं। आशा करते हैं, इस पोस्ट को पढ़कर आप लोगो को यह समझ में आ गया होगा कि डरावने सपने क्यों आते हैं?, drawne sapne kyun aate hain? और किस उपाय को करके आप इस समस्या से निजात पा सकते हैं। आपको बता दें, हर किसी के लिए डरावने सपने आने का कारण अलग अलग हो सकता है क्योंकि माहौल और व्यक्तित्व हर किसी का अलग अलग होता है। इसीलिए सही कारण को पकड़े और सही उपाय को करें। तभी आप इस समस्या से निजात पा सकते हैं  आज के पोस्ट में बस इतना ही। स्वस्थ रहें खुशहाल रहें।

यह भी पढ़िए :-

 

Leave a Comment